ब्रेकअप के बाद क्या करे - How to Handle a Breakup in Hindi

ब्रेकअप के बाद क्या करे – How to Handle a Breakup in Hindi

ब्रेकअप से बाहर कैसे निकले – How to handle a breakup?

दोस्तो, आज का टॉपिक बहुत ही इमोशनल है क्योंकि आज हम बात करेंगे कि ब्रेकअप के बाद क्या करे. ब्रेकअप होने के बाद बहुत दुख होता है, हमारा किसी भी काम में मन नहीं लगता और यह स्वभाविक है.

क्योंकि रिश्ते में हम समय और भावनाएं दोनों invest करते हैं.

तो कई दिन, हफ्ते और कई रातें हम इस ब्रेकअप से जूझने में लगा देते हैं और इसका हमारे रोज़ के काम-काज पर बहुत बुरा असर पड़ता है.

इस लिए आज हम कुछ ऐसी बातें साँझा करेंगे जो breakup handle करने में आप की मदद करेंगी.

“We cannot be together anymore” हम अब साथ नहीं रह सकते. इस एक लाइन ने जा ना जाने कितने दिल तोड़े.

हर्ट-ब्रेक दिल टूटना, बचपन में इस की परिभाषा कुछ और थी लेकिन जैसे-जैसे हम बड़े होते गये हमारे लिए इस की परिभाषा बदलती गयी. बचपन में जब कोई खिलौना नहीं मिला जो हम लेना चाहते हैं तो हर्ट-ब्रेक.

यह भी पढ़ें: सच्चा प्यार क्या है और झूठे प्यार की निशानियाँ क्या होती हैं  

थोड़े और बड़े हुए 5th-6th क्लास में गये, बेस्ट-फ्रेंड ने कुछ कह दिया जो आप को अच्छा नहीं लगा तो हर्ट-ब्रेक.

लेकिन उसके बाद फिर कुछ समय बाद प्यार हुआ और उसके बाद ब्रेकअप, फिर पता चला कि हर्ट-ब्रेक का बाप क्या होता है. यह बात बिलकुल सही है कि ब्रेकअप के बाद उस दर्द से बाहर आना कितना मुश्किल होता है.

दोस्त बहुत समझाते हैं कि छोड़ वो तेरे लायक नहीं था, तेरे लिए कोई और होगा, जो होता हिया अच्छे के लिए होता है. लेकिन उस समय चाहे कुछ भी कह लो समझा लो..दर्द कम नहीं होता!

इस दर्द का कारण attachment हो सकता है, अकेलापन हो सकता है, यादें हो सकती हैं या फिर ego हो सकती है कि उसने मुझे छोड़ कैसे दिया, उसने मुझे ना कैसे बोल दिया.

लेकिन कारण कोई भी जब दिल दुखता है तब हम अलग-अलग चीजें करते हैं. कोई facebook, whatsapp पे sad stories डालता है और कोई कुछ करता है.

अगर आपको लगता है कि आप का ब्रेकअप फाइनल ब्रेकअप नहीं है तो आप हमारी पोस्ट “how to get back your ex?” से आप जान सकते हैं कि कैसे एक्स गर्लफ्रेंड/बॉयफ्रेंड को अपनी ज़िन्दगी में वापिस हासिल कर सकते हैं.

लेकिन अगर आप का रिलेशन एक toxic रिलेशनशिप था, जिस में आप की कोई वैल्यू नहीं थी तो आप को ऐसे ब्रेकअप के बाद आगे बढ़ना ही चाहिए.

Breakup handle करने के लिए आप को क्या करना चाहिए ?

खुद को वक़्त दें

breakup handle hindi

जैसे आप ने एक रिश्ता बनाया है, उस रिश्ते को अपना इतना समय दिया है तो वहां समय लगना तो स्वभाविक है.

यह भी पढ़ें: प्यार और आकर्षण में क्या अंतर है  

तो अगर आप यह सोचें कि सब कुछ आप झट से भूल जाएंगे तो यह मुमकिन नहीं है. इस लिए अपने मन को अपने दिल को हल्का करने के लिय समय लीजिए.

आप को कोई किताब पढ सकते हैं, कुछ लिख सकते हैं, गाने सुन सकते हैं, जो भी आप कि feelings को release करने में मदद करता है.

मेकओवर करें

breakup handle hindi

मेकओवर का मतलब यह नहीं है कि आप बहुत सारी शॉपिंग करने में पैसे खर्च करें बल्कि इसका मतलब यह है कि आप अपनी लुक्स पे, ग्रूमिंग में और अपनी routine में बदलाव लायें.

फिर चाहे वो नया हेअरकट हो या नया लुक और या फिर फिटनेस, आप खुद को बदलने पे काम करिए, gym जाईये कसरत करिये, मेहनत करिये कोई नई स्किल सीखिए.

पुरानी चीजों के बारे में सोचने की बजाये आप खुद पे ध्यान दें और यदि आप खुद पे काम करने में खुद को बदलने में वियस्त रहेंगे.

यह भी पढ़ें: पति पत्नी का रिश्ता कैसा होना चाहिए  

ऐसे हमारा दिमाग नई भावनाओं की शुरुआत करता है और एक नई कहानी की शुरुआत इन्ही नई आदतों से बनती है और आप धीरे-धीरे ब्रेकअप से उभर कर एक नये इन्सान बन जायेंगे.

सोशल मीडिया पे पीछा करना बंद करें – don’t stalk her/him on social media

यह तो लाज़मी है कि जब आप रिलेशन में थे तब कई तस्वीरें भी साथ में अपलोड करी होंगी और यह पोस्ट्स यह तस्वीरें आप को वो सब याद दिलाएंगी जो आप भूलना चाहते हैं.

तो सबसे पहले आप अपने पुराने कनेक्शन को बिलकुल खत्म कर दीजिये. उस को हर जगह से ब्लाक या डिलीट करो, उस की पुरानी सारी तस्वीरें अपने फ़ोन से डिलीट करो और अपनी नई तस्वीरें अपलोड करें.

अपने एक्स की प्रोफाइल की stalking से बचें. यह मत सोचिये कि उस के साथ दोस्त बने रहेंगे, hangout करेंगे, ऐसा बिलकुल नहीं करना आपने.

यह आप को पीछे खिचेगा, हो सके तो वो सारे रिश्तों से भी फ़िलहाल के लिए संपर्क मत रखिये जो आप को अपने ब्रेकअप की याद दिलाते हैं.

नए कनेक्शन बनाएं

नये कनेक्शन आप कि दिमाग की रिकवरी में बहुत मदद करते हैं और यह बहुत ज़रुरी है.

तो घर में बैठे-बैठे, बेड पर लेटे-लेटे पुरानी यादों को सोच-सोच के खुद को दुखी मत करिये, बाहर निकलिए नये-नये लोगों से मिलिए, नये दोस्त बनाएं. ऐसा करने से आप बहुत अच्छा महसूस करेंगे.

देखिये, ब्रेकअप एक challenging time है, लेकिन ज़रुरी नहीं है कि हम बहुत ज़्यादा वक़्त लगा दें रिकवर होने में, यह हमारे हाथ में है कि हम बहुत जल्दी ही इस सिचुएशन से निकलें और एक शिक्षा लेकर जीवन में आगे बढें.

ब्रेकअप के बाद दुखी होने का कारण समझें

breakup handle hindi

तो जब हम बीमार होते हैं तो हम रोते नहीं रहते कि हम बीमार हैं, हम उस बीमारी का कारण पता करते हैं और दवाई लेकर ठीक हो जाते हैं.

लेकिन ब्रेकअप के बाद हम सिर्फ रोते रहते हैं और खुद को ऐसे बना लेते हैं कि जैसे हमसे ज़्यादा दुखी इस दुनिया में कोई और नहीं है.

ऐसा करने से आप breakup handle नहीं कर सकते बल्कि ऐसा करने से सिर्फ और सिर्फ आप खुद का ही नुकसान कर हे होते हैं, बिना दुखी होने की असली वजह जाने आप बस रोने-धोने में लगे रहते हो.

तो इस लिए आप को क्या करना चाहिए, आप को एक लिस्काट बनानी चाहिए, एक कागज़ पर पेन से वो सब चीजें लिखनी चाहिए कि आप को अपने पार्टनर के बारे में क्या अच्छा लगता है या क्या बुरा लगता है.

कोन सी चीज़ है जो आप मिस कर रहे हैं. कोन सी चीज़ जो मुझे नहीं चाहिए थी और वो उस इन्सान में हैं.

क्या उस इन्सान ने आप के विचारों की इज्ज़त की, क्या उसने आप को वैल्यू किया, क्या उसने आप को सुना, या फिर कोन सी चीज़ अच्छी थी.

जैसे वो इन्सान बहुत हसाता था, उसकी लुक्स आप को बहुत अच्छी लगती थी या फिर आप को कभी अकेला महसूस नहीं करने देता था या आप को हमेशा उसकी उपस्थिति अच्छी लगती थी, या कुछ भी हो सकता है.

ऐसा करने से आप अपने दर्द का अपने दुख का असली कारण ढूंढ पयोगे.

ऐसा नहीं है कि बस ब्रेकअप हो गया और बस अब दुखी ही होना है, कोई तो कारण होगा कुछ तो वजह होगी, कोई तो गड्ढा होगा ना, और जब तक उस गड्ढे का पता नहीं चलेगा तो उसे भरोगे कैसे.

लेकिन आप असली कारण समझे बिना ही breakup handle करने की कोशिश करते रहते हो.

हो सकता है उस इन्सान का हसाना अच्छा लगता हो, तो प्रॉब्लम क्या है? बाकी चीजें नहीं चाहिए थी, एक हसाना था जो बहुत अच्छा लगता था, उसका solution ढूंढें.

ज़्यादातर कारण होता है कि हम उस इन्सान की presence को मिस करते हैं, हमारी एक भावनात्मक आवश्यकता है कि वो मुझे सुनता था, समझता था.

इसका मतलब आप को वो इन्सान नहीं चाहिए आप को वो लोग चाहिए जो आप को सुन सकें, जो आप को समझ सकें और ढूँढना चाहो तो ऐसे बहुत सारे लोग हमारे आस पास होते हैं.

हमारे परिवार में हो सकते हैं, दोस्तों में हो सकते हैं, कोई और नहीं तो आप का एक दोस्त हमेशा होता है जो आप के साथ हमेशा रहा है, आप का साथ निभाया है और आखिर तक निभाएगा, वो हो आप खुद.

ब्रेकअप को सकारात्मक रूप में लें – handle your breakup with positive mind-set

breakup handle hindi

आप ब्रेकअप को एक सकारात्मक रूपे में लें, अपना माइंड-सेट यह बनायें कि जो भी होता है अच्छे के लिए ही होता है और यह बात मैं अपने personal experience से भी बोल सकता हूँ.

क्योंकि उस समय हमें सिर्फ और सिर्फ दुख हो रहा होता है इस लिए हमें लगता है कि हमारे साथ बहुत बुरा हुआ है, ऐसा नहीं होना चाहिए था, लेकिन मेरे दोस्त ऐसा नहीं है !!

जिस शख्स को पाने के लिए आज आप इतना दुखी और परेशान हो रहे हैं, कुछ समय बाद आप को पता चल जाएगा कि आप को उस शख्स की कितनी ज़रूरत है, मतलब आप समझ जायोगे कि आप को उस की ज़रुरत नहीं है.

जो समय आप अपने पार्टनर को देते थे, ब्रेकअप के बाद वही समय आप अपने ऊपर लगाओ, खुद को बेहतर बनाने में लगाओ, जीवन में कुछ बड़ा करने की spirit अपने दिल में लाओ.

जब कभी भी आप को अपने पार्टनर की याद आये तब उदास होने की बजाये उस चीज़ को एक आग की तरह लो जिससे आप को एक extra push मिले कुछ बड़ा करने का.

अपने माता-पिता के लिए काम करो, उन के बारे में सोचो, जीबन में तरक्की करो और जब आप खुश रहोगे, काम करोगे, जीवन में सफल होंगे, खुद पे काम करोगे तब आप को एक अच्छा पार्टनर भी मिल जाएगा. 😊

अपनी हैप्पी वाली फीलिंग्स लाईये और ब्रेकअप की आगे की ज़िन्दगी का प्लान बनाईये.


तो दोस्तो, मुझे उम्मीद है कि आप जान गए होंगे कि ब्रेकअप से बाहर कैसे निकले, और यह भी जान गए होंगे कि ब्रेकअप का आपकी जिंदगी में महत्व नहीं है.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल “ब्रेकअप से बाहर कैसे निकले” अच्छा लगा हो तो कमेंट करके जरुर बताएं, धन्यवाद !!       

अपनी प्रॉब्लम के बारे में personal राय लेना चाहते हैं तो आप मेसेज भी कर सकते हैं.

और पढ़ें: 

11 thoughts on “ब्रेकअप के बाद क्या करे – How to Handle a Breakup in Hindi”

Leave a Comment

%d bloggers like this: