Memory Power कैसे बढ़ाएं | Increase Memory Power in Hindi » Love Define

Memory Power कैसे बढ़ाएं | Increase Memory Power in Hindi

आज कल की जिंदगी में जहाँ इतना competition है, हर कोई तेज़ दिमाग रखने की तमन्ना रखता है. अगर दिमाग तेज़ होगा तो पढ़ाई में अच्छे नंबर आएंगे या फिर आप अपने काम में सबसे आगे होंगे, performance अच्छी होगी तभी रिजल्ट अच्छा आएगा. अच्छी बात यह है कि इस याद शक्ति memory power को बढ़ाया भी जा सकता है.

मनुष्य की स्मरण शक्ति, उसके दिमाग brain पर निर्भर होती है। हर चिज़ सोचना, करना दिमाग का ही काम है। आपने गौर किया होगा कि कुछ व्यक्तियों को सहजता से ज्यादा जानकारी याद रह जाती है और वे जल्दी ही चीज़ों को समझने में सक्षम होते है।

आप भी यही चाहते होंगे कि आप भी ऐसा कर पाए? तमाम व्यवस्थाओं भरी जिंदगी के बीच लोग चीज़ों को भूलने लगे है और दिमाग पहले जैसा चुस्त काम नहीं कर रहा है।

हमारा दिमाग किसी घटना से जुड़े विशेष pattern में संकेत भेजता है और हमारे न्यूरॉन्स के बीच connection बनाता है, जिसे synapses कहते है।

मेमोरी पावर बढ़ाने के उपाय

आप अगर अपने brain को active करना चाहते है, सारा काम, सारी बाते याद रखना चाहते है तो आपको अपना memory power improve करना होगा। तो चलिए जानते हैं कुछ ऐसे टिप्स जो हमारी याद शक्ति को बढ़ाने में मदद करेंगे.

Stress ना लें

Memory power loss होना का सबसे बड़ा कारण stress लेना है। Stress की वजह से होते हुए काम भी बिगड़ जाते है। ऐसी कोई भी चीज़ जिससे आपको stress होता है या tension होती है, ऐसी चीजों से दूर रहे। बहुत ज्यादा स्ट्रेस से आपको depression भी हो सकता है।

Depression से आपका memorizing power weak हो जाता है। साथ की साथ आप उन लोगो से भी दूर रहे को नकारात्मक बाते बताते है।

दिमागी कसरत

memory power kaise badhaye

अपने दिमाग को तेज़ करने के लिए दिमागी कसरत करना बहुत ज़रुरी है. वैसे तो दिमाग हमेशा काम करता रहता है लेकिन इसको तेज़ करने के लिए आप puzzle गेम्स खेल सकते हैं.

Puzzle गेम में आप अपने दिमाग को चैलेंज देते हैं जिससे दिमाग की अच्छी कसरत हो जाती है. ऐसी कोशिश करें को रोज़ाना कामों के लिए उलटे हाथ का इस्तेमाल करें.

जैसे कि दांतों को ब्रश करना या बालों में कंगी करना, इससे दिमाग पर अच्चा प्रभाव पड़ता है. साथ ही कोशिश करें कि आप कुछ आसान काम ऑंखें बंद करके भी कर सकें. इसकी शुरुआत उन कामों से करें जिनको आप रोज़  करते हो.

जैसे कि दरवाजे का लॉक खोलना या टीवी का रिमोट इस्तेमाल करना. इसमें थोड़ी सावधानी जरुर बरतनी पड़ेगी लेकिन यह टास्क पूरी तरह से टच पर निर्भर करेंगे, जिससे आपके दिमाग के कुछ हिस्से एक्टिव हो जाते हैं जो आम तौर पर निष्क्रिय रहते हैं.

अपने दिमाग को energy दें

जिस प्रकार आप अपनी body को energy देते है उसी प्रकार अपने brain को भी energy देकर memory sharp करे। हरी सब्जियां खाकर आप अपने brain को energy दे सकते है।

अपने माइंड को fresh रखे। अपने दिमाग को energy देने के लिए आप ऐसी किताबे पढ़े जिसमे आपको ज्ञान प्राप्त हो।

दूसरो को पढ़ाएं

अपने ब्रेन की पावर को बढ़ाने के लिए दूसरो को पढ़ाए। हम जो याद करना चाहते है उसे loudly read करने से भी वो हमे याद हो सकता है।

इसी तरह research से पता चला है कि हम किसी चीज़ को दूसरो को पढ़ाते है तो इससे वो चीज हमारे brain में ओर अच्छे से memorize हो जाती है। इसका मतलब आप दूसरो को पढ़ा कर खुद की memory sharp कर सकते है।

ध्यान, योग और कसरत करें

memory power kaise badhaye

योग और ध्यान करने से दिमाग स्थिर रहता है और तनाव कम होता है. इससे आपके दिमाग को आराम मिलता है और एकाग्रता बढ़ती है.

योग और ध्यान से दिमाग को प्रयाप्त ऑक्सीजन और खून मिलता है, इसका सीधा असर आपकी मेमोरी पर पड़ता है और आपकी याददाश्त तेज़ हो जाती है.

हर दिन कम से कम 15 मिनट मेडिटेशन करना बहुत जरूरी है.

दिमाग को तेज़ करने के लिए व्यक्ति को रोज सुबह या शाम को कसरत कर लेनी चाहिए। इससे शरीर तथा दिमाग में चुस्ती तथा तंदुरुस्ती बनी रहती है।

ध्यान करने से आपका दिमाग फ्रेश होता है.  मेडिटेशन आपको स्वयं से मिलाता है, जिससे आपके जीवन में अद्भुत परिवर्तन आने लगता है।

दिमाग को करें रिलैक्स

memory power kaise badhaye

दिमाग को तेज़ करने के लिए इसको रिलैक्स करना बहुत ज़रुरी है. इसके लिए अपने पैरों की तलवों और सर की मालिश करें. मसाज से शरीर के साथ साथ दिमाग को भी राहत मिलती है और ये ज्यादा एक्टिव हो जाता है.

अगर आप खुद को नियमत रूप से चैलेंज देते रहेंगे तो ये आपके दिमाग को सोचने पर मजबूर करेगा, इससे आपका दिमाग रोज़ नई चीजें सीखेगा वहीँ पुरानी चीजों को याद रखने में भी मदद मिलेगी.

दृश्य संकल्पना

यह बाकी सब तरीको में से सबसे शानदार तरीका है। आप जो भी पढ़ रहे है , लिख रहे हैं या सुन रहे हैं उनकी अपने दिमाग में दृश्य कल्पना visualize बना ले। आपको किताब में को भी दृश्य, पिक्चर , चार्ट और अन्य ग्राफिक्स दिखाई देते है, उन पर अच्छे से ध्यान दीजिए।

यदि मानसिक छवि जितनी स्पष्ट होगी, उतना ही अधिक आपको याद रहेगा।

कुछ नया सीखने की चाह

memory power kaise badhaye

अगर आप अपने दिमाग को तेज़ बनाना चाहते है तो हमेशा कुछ नया सीखने की चाह रखिए। कभी संगीत में कुछ नया सीखें, कभी किसी नई भाषा को सीखें, कुछ भी ऐसा आप सीखते रहें जिस में आपको अपना दिमाग लगाना पड़े, आपके दिमाग की कसरत हो.

इसका मतलब यह नहीं कि आप हर थोड़े दिन में अलग अलग चीजें सीखें, आप वही चीज़ें सीखें जिनका संबंध आपके करियर से हो, आपके बिज़नेस से हो, आपकी जिंदगी से हो, जो आपकी जिंदगी में आपके काम आए.

रोज कुछ नया सीखने के लिए तैयार रहिए। कुछ नया सीखने की आदत आपके दिमाग को हमेशा जवान बनाए रखेगी यानी की हमेशा तंदुरुस्त बनाए रखेगी। इससे आपका ज्ञान भी बढ़ेगा।

जिस इंसान को सही समय पर सही दिमाग लगाना आ गया उसके लिए दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं है, वो जो चाहे हासिल कर सकता है.

इन्सान की इतनी वैल्यू नहीं होती है जितनी किसी इंसान की बुद्धि और विचारों की वैल्यू होती है.

पर्याप्त नींद लें

memory power kaise badhaye

हर एक व्यक्ति को 6 से 7 घंटे की नींद आवश्यक होती है। यदि वह नींद पूरी न करे तो पूरा दिन चिड़चिड़ा रहता है और दिमाग भी सही से नही चलता है, पूरा दिन उबासियां लेने में चला जाता है और काम करने में मन भी नही लगता।

दिन में थकान के वक्त ली गई एक छोटी सी झपकी आपके मस्तिष्क को फिर से चार्ज कर देती है। Proper नींद से आपका brain actively काम करेगा और आप चीज़ों को आसानी से याद रख पाएंगे क्योंकि जब हम properly नींद पूरी करते है तो ये memory को शार्प करता है।

 नकारात्मक लगों से दूर रहें 

कभी कभी आपके दिमाग में फालतू की वही बाते घूमती रहती है जो आपको आपके दोस्त ने बताई होती हैं। Negative लोग हमेशा नेगेटिव बाते ही करते है जिसके कारण सामने वाले के दिमाग पर असर पड़ता है और वह पूरा दिन वही बाते सोचने में लगा रहता है।

इसलिए अगर आप हमेशा सकारात्मक रहना चाहते हैं या positive thoughts रखना चाहते है तो अपनी संगती सुधारे और नकारात्मक लोगो से दूर रहे।

दिमाग तेज़ कैसे करें घरेलू उपाय

ऐसे कई सरे देसी और घरेलू नुस्के हैं जो आपकी memory power को बढ़ा सकते हैं. आईये बताते हैं आपको उनके बारे में.

मेहंदी से बढ़ती है याददाश्त

जी हाँ! यह बात सच है कि मेहँदी के पत्तों में बहुत पॉवर होती है. मेहँदी के पत्तों में कार्सोनिक एसिड पाया जाता है जिससे दिमाग की मस्पेशियाँ एक्टिव होती हैं. यह  एसिड हमारे दिमाग के सेल्स को एक्टिव करता है.

यह इतना ज्यादा असरदार होता है कि इससे खोई हुई याददाश्त भी वापिस आ सकती है.

इसके लिए आधा लीटर पानी में 50 ग्राम मेहँदी के पत्तों को पीस कर मिलाएं और इसे उबाल लें. उबालने के बाद जब सिर्फ 100 ग्राम पानी बच जाए तो इसे छान लें और गुनगुना करके इसे पी लें.

ये आपका दिमाग तेज़ करने में मदद करता है.

Omega-3 फैटी एसिड लें

ओमेगा-3 आपके दिमाग उर दिल के लिए सबसे जरूरी आहार है. आपको ओमेगा-3 इसलिए खाना चाहिए क्योंकि हमारी बॉडी इसे पैदा नहीं करती और हमारे दिमाग के लिए यह  बहुत ज्यादा जरूरी है.

हमारे हृदय और दिमाग को रोज़ 1.8 ग्राम ओमेगा-3 की आवश्यकता होती है.

ओमेगा-3 salmon fish में होता है, इसके अलावा यह अलसी (flaxseed) में होता है. अलसी के बीजों को पीस कर उसका पाउडर बना लें और एक चमच खाएं.

एक चमच में 1.8 ग्राम ओमेगा-3 मिल जाएगा, इससे आपका stress भी कम होगा. इसके अलावा आपके मस्तिष्क के लिए berries, डार्क चॉकलेट, avocado और broccoli भी बहुत अच्छे आहार हैं.

बादाम और अखरोट खाएं

याददाश्त बढ़ाने में सबसे आसान तरीका है बादाम का सेवन करना. इसके लिए रोज़ रात को 5 बादाम भिगो दें और सुभ उठ कर उन्हें खा लें. आयुर्वेद के मुताबिक रोज़ सुभ बादाम खाने से दिमाग तेज़ होता है.

अगर आप इन भीगे हुए 5 बादामों को सुभ उनका छिलका उतार कर उन्हें 10 ग्राम मक्खन और मिश्री में मिला कर कुछ दिनों तक लगातार खाएंगे तो आपके दिमाग की शक्ति बढ़ेगी.

यदि आप अखरोट खाते हैं, तो भी आपकी याददाश्त बढती है. अखरोट के साथ किशमिश का सेवन करना अधिक फायदेमंद होता है.

विटामिन C और विटामिन E का सेवन करें

विटामिन C की कमी से शरीर और दिमाग पर बुरा असर पड़ता है. विटामिन C और विटामिन E आपकी memory power को बढ़ाते हैं. इसके लिए oats, हरी सब्जियां, खट्टे फल और सोयाबीन आयल खाएं.

इन चीजों में प्रयाप्त मात्रा में बिटामिन पाए जाते हैं. सुबह खाली पेट आंवले का मुरब्बा खाने से भी दिमागी विकास होता है.

याददाश्त बढ़ाने के लिए क्या खाएं

1. जामुन

जामुन गुणों से भरपूर होता है और यह आपकी मेमोरी पॉवर बढ़ाने में मदद करता है.

2. अंडा

अंडा भी याददाश्त को बनाए रखने और मेमोरी पॉवर को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाता है. इसमें विटामिन D और ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है जो आपके दिमाग के लिए बहुत फायेदेमंद है.

3. पालक

याददाश्त को बनाये रखने ले लिए पालक सर्वोत्तम आहार माना जाता है.

4. ऑलिव आयल

ऑलिव आयल में mono-saturated फैट की काफी मात्रा होती है जिन से blood vessels की एक्टिविटी बढ़ती है और उससे आपकी याददाश्त बढ़ती है.

5. अनार

अनार के जूस में एंटी ऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होता है जिससे दिमाग तेज़ होता है. साथ में यह ब्रेन सेल्स को खराब होने से भी बचाता है. नियमित रूप में अनार का सेवन करने से शरीर में खून की कमी भी दूर होती है.

6. चुकंदर

चुकंदर खाने से हमारी बॉडी का ब्लड फ्लो में तेज़ी आती है, जिससे शरीर में चुस्ती फुर्ती आती है और आलास खत्म होता है और साथ साथ हमारा दिमग भी एक्टिव रहता है और मेमोरी पॉवर बढती है.

7. संतरा 

संतरा एक बहुत ही लाभकारी फल है. इसके सेवन से ना केवल दिमाग की शक्ति बढती है बल्कि हमारे शरीर की और भी बहुत सारी बिमारियों को ठीक करने में बहुत उपयोगी होता है.

याददाश्त बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय

1. शहद 

मानसिक तनाव को दूर करके आपका दिमाग तेज़ हो सकता है. इसके लिए रात को सोने से पहले शहद में थोडा सा दालचीनी पाउडर मिला कर खाएं.

2. तुलसी

तुलसी में अनेक प्रकार के एंटीबायोटिक और एंटीऑक्सीडेंट गुन पाए जाते हैं. इसलिए तुलसी का सेवन करने से भी आपका दिमाग तेज़ होता है.

3. दही का सेवन

अधिक गुस्सा आने से भी दिमाग कमजोर हो जाता है. तो इससे छुटकारा पाने के लिए रोज़ाना केसर वाला दूध पीना चाहिए. आप अपने दिमाग को तेज़ करने के लिए दही का सेवन भी कर सकते हैं.

4. गाजर

ठंड के समय आप गाजर का सेवन भी कर सकते हैं, चाहें तो गाजर का जूस पियें या फिर सलाद में खाएं.

5. प्रयाप्त पानी पीएं 

दिमाग की अच्छी सेहत के लिए दिन में प्रयाप्त मात्रा में पानी पीना भी बहुत जरूरी है. एक पुरूष के लिए एक दिन में कम से कम 3 लीटर पानी पीना जरूरी होता है और औरतों के लिए कम से कम 2 लीटर पानी पीना जरूरी होता है.

6. केसर

केसर एक ऐसा मसाला है जो खाने की स्वाद को दो गुना कर देता है. इसका उपयोग अनिद्रा दूर करने वाली दवायों में होता है. इसके सेवन से हमारा मस्तिष्क उर्जावान रहता है.

7. हल्दी 

हल्दी हमारे दिमाग के लिए बहुत अच्छी औषधि है. ये सिर्फ खाने के स्वाद और रंग में ही नहीं बल्कि दिमाग को भी स्वस्थ रखने में मदद करती है. इसके नियमित सेवन से alzheimer रोग नहीं होता, साथ ही ये दिमाग की क्षतिग्रस्त कोशिकायों को रिपेयर करने का भी काम करती है.

8. सूरजमुखी के बीज

सूरजमुखी के बीजों में अच्छी मात्रा में मैग्नीशियम होता है, जो कि दिमाग की तंत्रिकाओं को activate करता है, sunflower seeds तनाव और डिप्रेशन को दूर करते हैं.

दिमाग तेज करने के लिए पतंजलि की दवा

पतंजलि दिव्य मेधा वटी, पतंजलि च्यवनप्राश

बच्चों की memory power कैसे बढ़ाएं

एक छोटा टुकड़ा लगभग 20 ग्राम नारियल का लें, 5 गुरबंदी बादाम लें और एक अखरोट लें, उनको छोटा छोटा बारीक काट लें और एक कटोरी में डाल लें. अब उस में स्वाद अनुसार धागे वाली मिश्री डाल लें.

इस मिश्रण को रोज़ उसे दूध के साथ खिलाएं,  और आप देखेंगे कि कुछ ही दिनों में उसकी स्मरण शक्ति बहुत तेज़ी से बढ़ेगी.

यह सिर्फ बच्चों के लिए ही नहीं है, बड़े भी इस का सेवन करके memory power को बढ़ा के इसका लाभ ले सकते हैं.

मेमोरी पॉवर बढ़ाने के लिए योग और आसन

  • अनुलोम-विलोम प्राणायाम
  • ब्रह्मारी प्राणायाम
  • भस्त्रिका प्राणायाम
  • पद्मासन
  • पश्चिमोतान आसन
  • सर्वांगासन
  • शीर्षासन

 निष्कर्ष:

तो दोस्तो, जीवन में कुछ हासिल करने के लिए हमारी मेमोरी पॉवर मज़बूत होनी चाहिए, और आज आपने इस लेख के माध्यम से मेमोरी पॉवर को बढ़ाने के कुछ नियम जाने.

वैसे तो उमर बढ़ने पर तो याददश्त कमजोर होती ही है लेकिन कुछ बच्चो और व्यस्को को भी बाते और चीज़े याद रखने में दिक्कत होती है। इस लिए सबसे पहले खुद पर ध्यान देना होगा, खुद पर काम करना होगा और अच्छी बातें अपनानी होंगी.

दोस्तो, यह उपाय आपको memory power को boost करने में मदद करेगा। यदि आप यह सारे टिप्स अपनाएंगे और खुद पर काम करना शुरू कर देंगे तो आप जल्द से जल्द अपनी memory power को बढ़ा सकते है।

हमें उम्मीद है आपको हमारे दिए हुए टिप्स पसंद आए होंगे , कमेंट करके जरूर बताएं।

यह भी पढ़ें:

3 thoughts on “Memory Power कैसे बढ़ाएं | Increase Memory Power in Hindi”

Leave a Comment

%d bloggers like this: