किसी को भुलाने का तरीका » Love and relationship » Love Define

किसी को भुलाने का तरीका

बहुत से लोग प्यार में धोका खाते बैठे है। लोगो को एक व्यक्ति से इतनी अटैचमेंट हो जाती है और जब वह दूर चले जाते है तो उन्हें दुख होता है। वह दिन रात उन्ही के ख्यालों में लगे रहते है, जिसकी वजह से उनका किसी भी चीज़ को करने में मन नहीं लगता है। इसलिए आज हम बताएंगे की किसी को भुलाने का तरीका क्या हो सकता है. 

किसी को भुलाने का तरीका

रात को वह रोते रहते है, खाने का मन नहीं करता है, डिप्रेशन में चले जाते है और भी बहुत कुछ हो जाता है। यह सब से निकलने के लिए बहुत से उपाय है, हो कि आज हम आपको बताएंगे। तो आइए देखते है:

एक्स की सारी चीजें अपनी जिंदगी से हटा दें  

जो चीज़े आपको उस व्यक्ति की याद दिलाती है, उससे दूर रहे। जब तक वह याद दिलवाने वाली चीज़े आपके आस पास रहेंगी, तब तब आपको अपने प्रेमी को याद आती रहेगी।

यह भी पढ़ें: ब्रेकअप के दर्द से कैसे बाहर निकलें  

वह सब देख देख के आपको रोना आएगा कि पहले आप कितने खुश रहा करते थे और अब आप दिन रात उन्ही सब यादों को देखते रहते है और याद करते रहते है इसलिए इन सब से दूर रहे और सब कुछ हटा दे।

अकेले और खाली मत रहिए 

किसी को भुलाने का तरीका

यदि आप खुश रहना चाहते है और अपने प्रेमी को भूलना चाहते है तो कभी भी अकेले न बैठे। अगर आप अकेले बैठेंगे तो आप इस व्यक्ति को याद ही करते रहेंगे।

अपने मन को भटकाना है तो अकेले रहना छोड़ कर, अपने परिवार वालो साथ बैठे, अपने दोस्तो साथ बैठे, बाहर घूमने जाए।

खुद को अच्छे कामों में व्यस्त रखें, अपने समय को अपनी उर्जा को अपने बेहतर भविष्य में लगाएं.  

आप आज से ही अकेले रहना बंद करदे। अगर आप ऐसे इंसान है जो अकेले रहना पसंद करते है तो आप अपने प्यार को भूलने के लिए अकेले ही रहे। अकेले रहकर आप स्वयं को ओर अच्छे से समझ सकते है।

यह भी पढ़ें: प्यार और आकर्षण में क्या अंतर है  

अपना ध्यान कही और लगाईए 

दोस्तो, यदि आप किसी को भूलना भी चाहते है तो आपको सबसे पहले उनके बारे में सोचना बंद करना होगा। सोचते रहने से हम उसे हमेशा याद करते रहते है।

आप भले ही यह सोचते होंगे कि आप कैसे अपने प्यार को भूल सकते है पर फिर भी नही भूल पाएंगे।

नये दोस्त बनाएं, नए लोगों से मिलिए  

आप नए दोस्त बना कर भी अपने प्रेमी को भुला सकते है। नए दोस्त बनाने से आपको बहुत खुशी प्राप्त होगी और प्रेमी याद भी नहीं आएगा।

नए दोस्त बनाने के बाद आपको उनके साथ समय बिताना होगा। उनके साथ बिताए हुए पल आपको याद रहने लगेंगे और आप पुरानी यादों को भूलने लगेगे।

यह दिमाग की एक आदत होती है कि आप नई बातो को याद रखने के लिए पुरानी बातो को भूलना शुरू कर देते है।

अपने लक्ष्य पर काम करिए  

किसी व्यक्ति को भूलने के लिए अपने काम में लग जाए। अगर आप पढ़ाई करते है तो अपना पूरा ध्यान पढ़ाई पर लगा दे। अपने लक्ष्य की तरफ ही फोकस रखे।

यदि एक बार आप व्यस्त रहने लग गए तो आपको बिलकुल भी उसकी याद नही आयेगी। जब तक आप खाली बैठे रहेंगे, तब तक आपको भूलने वाले की याद आती रहेगी।

ऐसा भी है कि आपको कुछ भी करने का मन नहीं कर रहा होगा लेकिन खुद को सही करने के लिए आपको busy रहना ही होगा।

यह भी पढ़ें: सच्चा प्यार क्या होता है और झूठे प्यार की क्या निशानिया है  

जीबन रुकने का काम नहीं है, बैठने का नाम नहीं है..जीवन तो चलने का नाम है. जब चलोगे ही नहीं तो यात्रा कैसे पूरी होगी. जब चलोगे, यात्रा करोगे मंजिल भी तभी मिलेगी.        

आपका दिमाग भी तभी ही पुरानी बातो को भूलेगा जब आप नई चीज़े करना शुरू करेंगे इसलिए अपने काम में व्यस्थ हो जाए।

खुद से प्यार करिए 

किसी को भुलाने का तरीका

Self love होना बहुत ही आवश्यक है। अगर आप खुद से प्यार करने लगते है तो आपको किसी से भी फर्क नही पड़ने लगेगा।

एक बात याद रखियेगा, जिस दिन आपने खुद से प्यार करना सीख लिए उसके बाद आपको कोई भी हर्ट करे तो भी आपको फर्क नही पड़ेगा।

अपने स्टाइल को बदले, अपने आप को एक अच्छा इंसान बनाए। यह करने से आपको self love होगा।

माफ़ करना सीखें 

माफ़ कर दीजिए उन लोगों को जिन्होंने आपका दिल दुखाया है. सिर्फ उनके लिए नहीं बल्कि खुद के लिए. क्योंकि जब तक आप उन्हें माफ़ नहीं करेंगे, तो चाहे प्रेम से या नफरत से, आपका संबंध उनसे जुड़ा ही रहेगा.

माफ़ करने का यह मतलब नहीं कि आप उनके साथ दोबारा से रिश्ता रखें या उसे पाने की कोशिश करें. माफ़ करने का बीएस इतना मतलब है कि आपका अब उनसे कोई रिश्ता नहीं कोई संबंध नहीं.

ध्यान करें 

आप रोज़ कम से कम 15 मिनट का ध्यान करना शुरू करिए. ध्यान करने से आपको अपनी आत्मा की शक्ति प्राप्त होगी, आपका मन ज्यादा शांत और स्थिर रहेगा.

आप लोगों को और जिंदगी को ज्यादा बेहतर समझ पाओगे. याद रखना ये जो यादें होती हैं ये ज्यादा समय तक नहीं रहती. 

हर मेमोरी का एक टाइम पीरियड होता है और एक समय के बाद आप अपनी हर याद भूल जाते हैं. लेकिन यह आप पर निर्भर करता है कि आप उन यादों का भोझ लेकर जिंदगी में कितना आगे तक बढ़ते हो.       

निषकर्ष: 

यदि आप पहाड़ की यात्रा कर रहे हो और अप एक किल्लो का वजन उठा के चल रहे हो, तो धीरे धीरे वो एक किल्लो का वजन भी आपको बहुत भारी लगने लगेगा.  

आपका चलना मुश्किल हो जाएगा. इसलिए यदि आप पुरानी बीती हुई यादों का भोझ लेके चलोगे तो जिंदगी जीना बहुत भारी हो जाएगा.  

आप यदि अपने प्रेमी को भुलाना चाहते है तो यह सभी तरीके ज़रूर अपनाए और अपनी जिंदगी में खुश रहे। मुझे यकीन है कि आपको यह जरूर समझ में आया होगा।

दोस्तो, यदि आपको हमारी यह आर्टिकल “किसी को भुलाने का तरीका” अच्छा लगा हो तो कमेंट करके जरूर बताएं।

और पढ़ें:

5 thoughts on “किसी को भुलाने का तरीका”

Leave a Comment

%d bloggers like this: